WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

क्या सरसों के भाव की कीमतें एमएसपी से ज्यादा जाएंगी, जानिए सरसों की साप्ताहिक रिपोर्ट और बारिश के कारण उत्पादन पर असर क्या पड़ा

सरसो : साप्ताहिक रिपोर्ट


होली त्यौहार के चलते बाजारों में अच्छी डिमांड,तेल में अच्छी डिमांड एवं पोर्ट पर स्टॉक की कमी के चलते नयी सरसो की कीमतो में बढ़ोत्तरी जारी है
मंडियों में भाव और आवक :
ललितपुर (उत्तर प्रदेश) में 8000 बोरी आवक के साथ भाव 200 रु बढ़कर 4500~4850/क्विंटल पर पहुंच गया।,कोटा मंडी में 5000 बोरी आवक के साथ नयी सरसो 5200/क्विंटल पर पहुंच गयी है

बारिश के कारण उत्पादन पर असर


उत्तर प्रदेश में पिछले साल कम भाव मिलने के कारण इस साल इस साल बुआई का रकबा 15% घटा है।, बीते दिनों हुई बारिश से प्रमुख सरसो उत्पादक क्षेत्र ललितपुर, बदायूँ, हमीरपुर में फसल को 5~7% नुक्सान हुआ। जिससे मंडी में आवक कमज़ोर है,मध्य प्रदेश के प्रमुख सरसो उत्पादक क्षेत्र शिवपुरी, इंदौर, मोरेना में कटाई के समय हुई बारिश और ओलावृष्टि के कारण 10% फसलों को नुक्सान हुआ है।


किसानो को इस साल सरसो के बजाये मटर, चना और गेंहूँ की बुआई में अधिक रूचि है। इनका रकबा भी बढ़ा है।
वर्तमान में मध्य प्रदेश 14%, उत्तर प्रदेश 9% और हरियाणा 7% की देश सरसों उत्पादन में 30% हिस्सेदारी होती है।

व्यापार अपने विवेक से करें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment