WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

भारत सरकार ने क्यों पद्म श्री दिया हाथी पालने वाली को?

ये भारत में हाथी की परी किसे कहा जाता है? चलिए हम आपको बताते हैं। भारत सरकार ने इस साल पद्म श्री पुरुस्कार के लिए 110 लोगों के नामों का चयन किया था। और उसमें से 34 गुमनाम नायक थे ।

भारत के सर्वोंच नागरिक सम्मान भारत रतन के बाद पद्म पुरुस्कार सबसे महत्वपूर्ण सम्मान माने जाते हैं। इन्हें तीन श्रेणियों में पद्म विभूशन, पद्म भूशन और पद्म श्री के तोर पर दिया जाता है।

भारत सरकार ने क्यों पद्म श्री दिया हाथी पालने वाली को?

पद्म पुरुस्कारों की इसी साल की सूची में पार्बती बरुआ का नाम भी शामिल है। पार्वती बरुआ जिन्हें हाथी की परी के नाम से जाना जाता है। यह भारत की पहली महिला महावत है। उन्हें सामाजिक कार्य पशु कल्याण में पद्म श्री सम्मान से नवाजा गया था।

अक्सर पुरुषों को ही हाथियों के महावत के रूप में देखा जाता है। लेकिन असम की गुवाहाटी की पार्वती बरुआ इसी रूढ़िवादी विचार को चुनौती देती है। पार्वती बरुआ ने जंगली हाथियों से निपटने और उन्हें पकड़ने के लिए तीन राज्यों की सहायता की है। और इन्होंने कई लोगों की हाथी से जान बचाने में भी सहायता की है।

अगर आपको यह जानकारी जानकर अच्छा लगा हो तो हमारे इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर जरूर करें। हम इस प्रकार की जानकारी आपको प्रतिदिन देते हैं। इसलिए हमारी इस वेबसाइट को प्रतिदिन विजिट जरूर करें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment