WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

8 April Sarso Ka Bhav : 8 अप्रैल सरसों का भाव, सरसों के भाव में आई तेजी

नमस्कार किसान भाइयों आज के इस आर्टिकल में हम 8 अप्रैल के ताजा सरसों मंडी भाव की जानकारी प्राप्त करेंगे। सरसों मंडी भाव की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस आर्टिकल को लास्ट तक जरूर पढ़ें।

प्रतिदिन विभिन्न मंडियों के भाव की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी वेबसाइट को विकसित जरूर करें। सबसे पहले मंडी भाव की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन जरूर करें व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए डायरेक्ट लिंक हमने ऊपर और नीचे उपलब्ध करवाया है।

और हमारे इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर जरूर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा किसान भाई आज के ताजा मंडी भाव की जानकारी प्राप्त कर सकें।

8 April Sarso Ka Bhav : 8 अप्रैल सरसों का भाव

जगह/मंडीसरसों रेट
बरवाला मंडी5050/5100+0 आवक बोरी 5000
हिसार मंडी5000/5100+0 आवक बोरी 400
गोयल कोटा5425-25
सिवानी मंडी4800
मुरैना मंडी4900/5000+0 आवक बोरी 2000
पोरसा मंडी5075+25 आवक बोरी 1000
ग्वालियर मंडी4800/5000+0 आवक बोरी 2000/3000
जयपुर5475/5500+25
दिल्ली मंडी5200/5250-25
चरखी दादरी मंडी5150/5200-25
अडानी बूंदी5475+75
अडानी अलवर5450+50
सुमेरपुर मंडी4925+25 आवक बोरी 7000
अलीगढ़ मंडी4800/4825-75 आवक बोरी 1800
श्योपुर मंडी4900/5000-50 आवक बोरी 1000
यूपी लाइन5400/5600
एमपी लाइन5400/5600
कोटा मंडी4700/4950 आवक हुई 2500
रेवाडी मंडी4800/5100 आवक हुई 5000
मेड़ता मंडी5000 आवक बोरी 4000
गंगानगर मंडी4700 आवक 18000/20000
सोंख मंडी5166 42% कंडीसन
अलवर मंडी5150 आवक बोरी 8000
खैरथल मंडी5100 आवक बोरी 15000
नोहर मंडी4650 से 5140
आदमपुर मंडी5042 Leb 41.90

इसके अलावा, राज्यवार सरसों इंडिया के कुल आवक निम्नलिखित हैं:

  • राजस्थान प्रदेश: 4,00,000 बोरी
  • मध्य प्रदेश: 75,000 बोरी
  • उत्तर प्रदेश: 80,000 बोरी
  • हरियाणा पंजाब: 65,000 बोरी
  • गुजरात राज्य: 25,000 बोरी
  • अन्य राज्य: 80,000 बोरी
  • कुल आवक: 7,25,000 बोरी

ऊपर दिए गए भावों की जानकारी हमने व्यापारियों की सहायता से प्राप्त करी है। दिनभर फसलों के भाव में बोली प्रारंभ रहती है। इसलिए फसलों के भाव में बदलाव आते रहते हैं। इसलिए अगर इन भावों के आधार पर अगर आपका कोई भी नुकसान होता है तो इसकी जिम्मेदार हम नहीं होंगे। फसल का व्यापार अपने विवेक से करें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment